इमरान खान, डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन बने सुर्खियां - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of January 2019
Home   >  World   >   News
दुनिया

इमरान खान, डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन बने सुर्खियां

Saturday, December 29, 2018 17:05 PM

नई दिल्ली। अहम राजनीतिक घटनाक्रमों की शुरुआत भारत से करते हैं,इस साल के अंत में भारत के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए, इन चुनावों में अब तक अजेय नजर आ रही केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा, जब तीन राज्यों से सत्ता उसके हाथ से निकल गई।

पाकिस्तान में इमरान खान
पाकिस्तान में हुए आम चुनावों में इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ  को अभूतपूर्व सफलता मिली, 25 जुलाई को इमरान खान भ्रष्टाचार और सत्ता विरोधी लहर पर सवार होकर प्रधानमंत्री पद तक पहुंचे, इमरान खान के जोशीले भाषणों बड़े-बड़े वादों पर वहां की जनता ने ऐतबार किया और उन्हें सत्ता की चाबी सौंपी।  इसी साल पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के मामले में जेल जाना पड़ा, अमेरिका से तनातनी और सैन्य फंड कम होने और अंतरराष्टÑीय वित्तीय एजेंसियों के कर्ज के बोझ तले दबे इमरान ने खर्च कटौती की पहल की, जो सुर्खियों में रहा,उन्होंने चीन के अलावा भारत के साथ संबंध सुधारने की भी वकालत की है।

श्रीलंका में राजनीतिक संकट
साल 2018 के अंत में श्रीलंका में राजनीतिक संकट का खत्मा हो गया,26 अक्टूबर को राष्टÑपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसंघे को उनके पद से हटा दिया,सिरिसेना ने महिंदा राजपक्षे को प्रधानमंत्री नियुक्त कर दिया, इससे तीन साल बाद राजपक्षे फिर से सत्ता में आ गए। विक्रमसिंघे ने राजपक्षे को पीएम स्वीकार करने से इनकार कर दिया जिससे यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया,13 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सिरिसेना के संसद को भंग करने के फैसले को असंवैधानिक करार दिया,16 दिसंबर को रानिल विक्रमसिंघे फिर से देश के प्रधानमंत्री बन गए।

म्यांमार में रोहिंग्याओं का दमन
रोहिंग्या उग्रवादियों ने म्यांमार में पुलिस चौकियों पर हमला किया था, जिसमें 12 जवान मारे गए थे, इसके जवाब में म्यांमार की सेना द्वारा रखाइन प्रांत में रोहिंग्या मुस्लिमों का दमन किया गया और रोहिंग्याओं का भारी मात्रा में पलायन हुआ,बांग्लादेश में करीब 7 लाख रोहिंग्या मुस्लिमों ने शरण ली, जिनके लिए भारत समेत कई देशों ने अपने दरवाजे बंद कर दिए थे,बांग्लादेश ने भारत से म्यांमार पर इन शरणार्थियों को वापस लेने का दबाव बनाने को कहा,लेकिन भारत ने अपने संबंध खराब होने के डर से ऐसा नहीं किया, जबकि चीन ने मध्यस्थता का प्रस्ताव देकर पहल की, इस पलायन को साल की सबसे बड़ी मानवीय त्रासदी करार दिया गया।

मालदीव में आपातकाल
2018 की शुरुआत में मालदीव में आपातकाल की घोषणा ने दुनिया को चौंका दिया,फरवरी में राष्टÑपति अबदुल्ला यामीन ने देश में 15 दिन के आपातकाल की घोषणा की, मालदीव के सुप्रीम कोर्ट ने 9 राजनीतिक कैदियों की रिहाई का आदेश दिया था, इसके बाद राष्टÑपति के आदेश के खिलाफ  बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए,राजनीतिक संकट को देखते हुए देश में आपातकाल की घोषणा कर दी गई, दुनिया भर ने इस फैसले की आलोचना की, 22 मार्च को आपातकाल के अंत की घोषणा कर दी गई,इसके बाद हुए चुनावों में यामीन की जगह इब्राहिम मोहम्मद सालेह राष्ट्रपति बने।

उत्तर और दक्षिण कोरिया में दोस्ती
उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन ने 2018 में इतिहास लिखने का काम किया,उन्होंने 27 अप्रैल को दक्षिण कोरिया की सीमा पार करके दोनों देशों के संबंधों का नया अध्याय लिखा,वह 60 सालों में ऐसा करने वाले पहले उत्तर कोरियाई शासक बने, किम ने दक्षिण कोरियाई राष्टÑपति मून जे से मुलाकात की और दोनों देशों के बीच परमाणु कार्य्रकम पर अहम बातचीत हुई, इसमें उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम पर विस्तृत चर्चा हुई,20वीं सदी में दोनों देशों के बीच हुए युद्ध के बाद यह प्रायद्वीप दो हिस्सों में बंट गया था।

सऊदी पत्रकार की हत्या
सऊदी अरब के आलोचक रहे वॉशिंगटन पोस्ट के पत्रकार जमाल खगोशी की अक्टूबर में तुर्की के दूतावास में हत्या से अंतरराष्ट्रीय संकट खड़ा हो गया था, सऊदी अरब के अधिकारियों द्वारा की गई इस हत्या से सऊदी अरब के दोस्त रहे अमेरिका के साथ उसके संबंधों में तनाव आ गया था, यह हत्या का मामला अंतरराष्ट्रीय सुर्खियों में रहा और सऊदी को काफी आलोचना झेलनी पड़ी,इसके अलावा साल के अंत में चीन की टेलीकॉम कंपनी हुवावे की शीर्ष अधिकारी मेंग वानजोऊ को ईरान के प्रतिबंधों के उल्लंघन के आरोप के आरोप में कनाडा में गिरफ्तार कर लिया गया।

रूस और यूक्रेन के बीच तनाव
रूस में व्लादिमीर पुतिन चौथी बार राष्ट्रपति बनकर सामने आए और दुनिया को अपनी ताकत का अहसास कराया,हालांकि इसके अलावा रूस और यूक्रेन के बीच हुई तनातनी भी सुर्खियों में रही जिसका असर दुनिया के दूसरे देशों पर भी पड़ा,रूस ने नवंबर में यूक्रेन के जहाज को जब्त करके 24 नाविकों को हिरासत में ले लिया था,इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच वार्ता दिसंबर में जी.20 सम्मेलन में दोनों नेताओं के बीच अनौपचारिक बातचीत हुई थी।

 

Other Latest News of World -

भारत लाया जा सकता है तहव्वुर राणा

तहव्वुर राणा को जल्द ही अमेरिका से भारत लाया जा सकता है। वह आतंकी हमले कराने में शामिल रहा है। वह अमेरिका में मुंबई हमले की साजिश के मामले में सजा काट रहा है।

14 Jan 12:45 PM

हिंदू सांसद तुलसी लड़ेंगी राष्ट्रपति चुनाव, ट्रंप को देंगी चुनौती

अमेरिका में पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड 2020 के राष्ट्रपति चुनावों में दोवदार होगी। वह गबार्ड डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद की दूसरी महिला दावेदार हैं।

13 Jan 15:25 PM

एच-1बी वीजा में बदलाव करेगा अमेरिका, ट्रंप ने कहा, प्रतिभाशाली को मिलेगा मौका

अमेरिका एच-1बी वीजा में बदलाव करेगा। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बदलावधारकों को आश्वासन दिया कि जल्द ऐसे बदलाव किए जाएंगे, जिससे उन्हें अमेरिका में रुकने का भरोसा मिलेगा और नागरिकता लेने के लिए संभावित रास्ता बनेगा।

12 Jan 16:10 PM

ऐमेजॉन के फाउंडर बेजोस लेंगे पत्नी से तलाक, दुनिया की सबसे अधिक होगी सेटलमेंट राशि

ऐमेजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस अपपी पत्नी मैकेन्ज़ी बेजोस से तलाक लेने जा रहे है। इसकी जानकारी ट्विटर पर मिली है।

11 Jan 16:40 PM

मैक्सिको सीमा पर दीवार बना सकते हैं डोनाल्ड ट्रंप, कहा, बढ़ा मानवीय संकट

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया कि अमेरिका-मैक्सिको सीमा पर मानवीय संकट बढ़ता ही जा रहा है।

09 Jan 15:40 PM