दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा पहुंची सीकर, जो किसानों की बात करेगा, उसी को इस बार देंगे वोट - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Friday 16th of November 2018
Home   >  Rajasthan electon news 2018   >   News
मेरा मुद्दा-2018

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा पहुंची सीकर, जो किसानों की बात करेगा, उसी को इस बार देंगे वोट

Friday, November 02, 2018 10:20 AM

सीकर। रींगस क्षेत्र में राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों और स्थानीय लोगों के बीच चर्चा में लोगों का स्थानीय विधायक बंशीधर बाजिया के खिलाफ जमकर रोष सामने आया। लोगों का कहना था कि यहां सरकारी कॉलेज की मांग पर भाजपा और कांग्रेस सिर्फ दावे करती हैं मगर सरकार बनने के बाद कोई समस्या का समाधान नहीं करता। क्षेत्र में पानी की विकराल समस्या से स्थानीय ढाणियां तो बेहद ज्यादा प्रभावित हैं। शिक्षा के क्षेत्र में केवल निजी शिक्षण संस्थाओं को ही बढ़ावा मिला। वादों के बावजूद किसानों के लिए आज तक मंडी नहीं बनी। हालात यह हैं कि स्थानीय विधायक लोगों से मिलने तक से कतराते हैं। कांग्रेस समर्थकों ने आरोप लगाया कि केवल शिलालेख लगाने से विकास नहीं होता। यहां भ्रष्टाचार, भाई भतीजावाद ज्यादा हावी है। यहां 15 साल से सीवरेज समस्या का निदान नहीं हुआ है। चुनाव के समय घोषणाओं के बावजूद रींगस को उपतहसील घोषित नहीं किया गया है।

भाजपा-कांग्रेस ने एक दूसरे पर लगाए आरोप
भाजपा समर्थकों का दावा है कि यहां पानी के लिए करीब नौ करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं और जल्दी ही ट्रोमा सेंटर का उद्घाटन करेंगे। भ्रष्टाचार और भाई भतीजावाद के आरोप बेबुनियाद हैं। क्षेत्र में पांच साल में 17 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। क्षेत्र में 16 पटवार संघ अनिवार्यता के चलते उपतहसील नहीं बन पा रही है। वहीं कुछ लोगों ने कहा कि बाईपास से लेकर श्रीमाधोपुर और भैरूंजी रोड तक पानी की विकट समस्या है। शराब की अवैध दुकानें बन गई हैं और महिला सुरक्षा पर कोई खास काम नहीं हुआ है। यहां भाजपा और कांग्रेस एक दूसरे पर आरोप लगाकर राजनीति करती  हैं मगर हकीकत में विकास पर कोई काम नहीं करता।  यहां स्थाई बस स्टैण्ड की समस्या का भी कोई हल नही हुआ है।

चर्चा में भाजपा नेता गिरधारीलाल, विष्णु चूलेट, अशोक कानूनगो, उदयभान धींगड़ा, राकेश शर्मा, बोदूराम कुमावत, कांग्रेस नेता मोहनलाल, विष्णु गंगावत, योगेन्द्र भानु, सोहनलाल प्रसाद, कालीदास स्वामी, मदनलाल टांक, सीपीएम नेता तारा धायल, किशोर बिजारनिया, केशाराम धायल सहित रणवीर सिंह, सुरेन्द्र सिंह बीवाल, कमलकांत जोशी, लखन अग्रवाल, एडवोकेट कैलाश धायल आदि शामिल हुए।

सीकर : भाजपा के दावों को कांग्रेसियों ने नकारा
सीकर विधानसभा क्षेत्र में चुनावी चर्चा में पानी में फ्लोराइड, कानून व्यवस्था सहित महिला सुरक्षा के मामलों पर लोगों ने अपनी राय रखी। राय रखने के दौरान कांग्रेस समर्थकों ने भाजपा सरकार पर जमकर कुशासन के आरोप लगाए तो भाजपा समर्थकों ने कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने और जनता को गुमराह करने के आरोप लगाए।

सीकर विधानसभा सीट पर वर्तमान में रतन जलधारी विधायक हैं। लोगों ने बातचीत में बताया कि यहां पानी में फ्लोराइड की समस्या है लेकिन सरकारी स्तर पर इसका कोई ठोस समाधान नहीं हुआ है। शहरी क्षेत्र को छोडकर विधानसभा के अधिकांश इलाकों में टूटी सडकों की समस्या भी बनी हुई है। हांलाकि भाजपा समर्थकों ने दावा किया है कि अगले चुनाव में भाजपा की सरकार आते ही क्षेत्र में सड़कों के जाल बिछा देंगे। सीकर में अभी बहुत विकास हुआ है और आगे भी विकास कराएंगे। महिला सुरक्षा को लेकर कई बड़े कदम उठाए गए हैं और आज विधानसभा क्षेत्र में महिलाएं रात में निकलने में भी सुरक्षित महसूस करती हैं। कांग्रेस सर्मथकों ने भाजपा नेताओं के विकास के दावों को नकारते हुए कहा कि शहर में कानून व्यवस्था बेहद ही खराब है। यहां तीन साल की बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं सामने आ रही हैं। रोजगार का दावा करने वाली भाजपा सरकार रोजगार लाभान्वित शहर के लोगों की लिस्ट जारी कर दें। स्थानीय व्यापारी भी सरकार की जीएसटी और नोटबंदी जैसी नीतियों त्रस्त हैं। शहर में ट्रेफिक व्यवस्था चौपट है और शिक्षा के क्षेत्र में केवल निजी शिक्षण संस्थाओं को पनपाया गया है। भाजपा सरकार बेरोजगार नौजवानों को गुंडे और लफंगे कहती है। विधायक के सामने कई मांगे रखी गई मगर उन पर आज तक सुनवाई नही हुई।

चर्चा में भाजपा नेता पूर्व विधायक राजकुमारी, महिला जिलाध्यक्ष अनीता शर्मा, मीडिया प्रकोष्ठ की नीलम मिश्रा, रामवतार सांखला, नगर परिषद नेता प्रतिपक्ष अशोक चौधरी, भाजपा महामंत्री राजकुमार जोशी, कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष मुश्ताक तंवर, महामंत्री चांदखां मुगल,रमजान, बलराम, पार्षद रवि तिवाड़ी, प्रदीप मिश्रा, दिनेश जाखड़, नगर परिषद उपसभापति अशोक चौधरी कांगं्रेस के कुलदीप रणवा, कुलदीप आजाद, महेश सैनी, राजकुमार पारीक, मुकुन्द तिवाड़ी, आदि मौजूद थे।

श्रीमाधोपुर : परिवारवाद की राजनीति से ऊबे लोग, अब बदलाव की चाहत
श्रीमाधोपुर विधानसभा क्षेत्र में प्रमुख रूप से पानी, बिजली, बदहाल सड़कें, सरकारी कॉलेज की कमी और ट्रेनों के कम ठहराव की समस्याएं सामने आई हैं। यहां स्थानीय विधायक झाबर सिंह खर्रा के काम से कुछ लोग खुश हैं तो विरोध जताने वालों की संख्या भी कम नही है। भाजपा समर्थक जहां क्षेत्र में अच्छा राज कायम होने का दावा कर रहे हैं तो वहीं कांग्रेस समर्थक अधिकांश समस्याएं जस के तस बने रहने की बात कह रहे हैं।

एक पक्ष विकास के साथ दूसरे ने गिनाई समस्याएं
भाजपा समर्थकों का कहना है कि भाजपा सरकार ने क्षेत्र को अराजकता से मुक्त कराया है। अधिकांश समस्याओं से मुक्ति मिली है। पानी की समस्या क्षेत्र में जरूर है लेकिन समस्या के निदान से ज्यादा लोगों में जागरूकता बढ़ाने की जरुरत है। सीवरेज समस्या का निदान भी जल्दी कर दिया जाएगा। वहीं कांग्रेस सहित अन्य नेता समर्थकों का कहना है कि सीवरेज समस्या के लिए सर्वे ही नहीं कराया जा रहा है। मनमर्जी से सड़कें, नाली और अन्य पक्के निर्माण कार्य करा दिए जाते हैं। महिलाओं में पहले से ज्यादा असुरक्षा की भावना घर कर गई हैं।

चर्चा में मौजूद युवाओं ने अपनी राय रखते हुए कहा कि यहां भामाशाह उपलब्ध होने के बावजूद सरकारी कॉलेज नहीं बन पा रहा है। बड़े उद्योगों की यह बहुत कमी है, जिससे स्थानीय युवाओं को बडी संख्या में बेरोजगारी का सामना करना पड़ रहा है। जिस हिसाब से भाजपा और कांग्रेस के नेता यहां राज कर रहे हैं, उस हिसाब से तो युवाओं को राजनीति में आगे आकर कमान संभालने की जरूरत है। यहां हालात यह हैं कि इस सीट पर पिछले 50 सालों से दो ही परिवारों का दबदबा है। राजनीति में ऐसी हालत से निजात मिलनी चाहिए और चुनावी परिदृश्य में बदलाव होना चाहिए। कॉलेज नहीं बनने के पीछे भाजपा नेताओं ने स्थानीय गुटबाजी को कारण बताया।

यह हैं प्रमुख समस्याएं
तीनों विधानसभा में जब मतदातओं की नब्ज टटोली गई तो पानी की बड़ी समस्या सामने आई। इसके अलावा शिक्षा के क्षेत्र में सरकारी कॉलेज, बेरोजगारी, सीवरेज, अवैध शराब कारोबार, महिला सुरक्षा सहित कई मुद्दों पर लोगों ने अपनी बेबाक राय रखी।


 

Other Latest News of Rajasthan-electon-news-2018 -

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा भीलवाड़ा-माण्डलगढ़ पहुंची, जनता को रिझा रहे कार्यकर्ता

चुनाव की तैयारियों को लेकर भीलवाड़ा जिले में दोनों प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस के कार्यकर्ता रणनीति बनाने और मतदाताओं को रिझाने में जुटे हुए है।

15 Nov 11:35 AM

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा पहुंची अजमेर, अण्डरपास और सीवरेज के मुद्दे छाएं

प्रदेश में विधानसभा चुनावों की चौसर बिछने के साथ ही कार्यकर्ताओं में भी जोश बढ़ने लगा है।

14 Nov 11:10 AM

'मेरा मुद्दा' में जानिए तारानगर, चूरू और रतनगढ़ की जनता के मुद्दे

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा ‘मेरा मुद्दा’ रविवार को चूरू जिले की तारानगर, चूरू और रतनगढ़ विधानसभा क्षेत्र में पहुंची।

05 Nov 14:35 PM

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा ने झुंझुनं के विधानसभा क्षेत्र में पहुंचकर जाना जनता का मन

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा का मेरा मुद्दा कार्यक्रम के तहत शनिवार को झुंझुनूं जिले की चिड़ावा, सूरजगढ़ और पिलानी विधानसभा क्षेत्र में पहुंचकर स्थानीय मुददों पर लोगों और जनप्रतिनिधियों की राय जानी।

04 Nov 10:50 AM

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा पहुंची झुंझुनूं, युवाओं ने जताई राजनीतिक बदलाव की चाहत

दैनिक नवज्योति की चुनावी यात्रा ‘मेरा मुद्दा’ शुक्रवार को झुंझुनूं जिले की उदयपुरवाटी, नवलगढ़ और झुंझुनूं विधानसभा सीट पर पहुंची जहां स्थानीय और राजनीतिक दलों के लोगों से चर्चा की।

03 Nov 10:40 AM