आंध्रप्रदेश चुनाव में चल सकती है 'जगन लहर', प्रजा संकल्प यात्रा में उमड़ा जनसैलाब - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of January 2019
Home   >  India   >   News
भारत

आंध्रप्रदेश चुनाव में चल सकती है 'जगन लहर', प्रजा संकल्प यात्रा में उमड़ा जनसैलाब

Thursday, January 10, 2019 15:45 PM

प्रजा संकल्प यात्रा के समापन के मौके पर भारी जनसैलाब को संबोधित करते हुए वाईएसआर प्रमुख ने कहा कि राज्य में मेरी पार्टी की सरकार बनने पर मेरी कोशिश होगी कि आपको मेरा शासन देखकर आप सभी को मेरे पिता जी की याद आए।

श्रीकाकुलम। आंध्रप्रदेश की सियासत में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के मुखिया वाईएस जगन मोहन रेड्डी तेजी से लोकप्रिय होते जा रहे हैं। अपने पिता स्व. राजशेखर रेड्‌डी के नक्शेकदम पर चलते हुए जगन रेड्‌डी न केवल हर तबके की भीड़ जुटाने वाले नेता साबित हो रहे हैं, बल्कि युवाओं को भी पार्टी से जोड़ने का काम कर रहे हैं।

मुद्दों को लेकर सड़क पर संघर्ष
आंध्रप्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने प्रजा संकल्प यात्रा के जरिए कई हजार किलोमीटर की यात्रा कर जनहित के मुद्दों को लेकर सड़क पर संघर्ष किया, जिसके बूते वे आगामी विधानसभा चुनाव में टीडीपी चीफ आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को पटखनी देने का दावा भी कर रहे हैं। इसी के तहत वह वाईएसआर कड़पा जिले के पुलिवेन्दुला निर्वाचन क्षेत्र के इडुपुलपाया से 6 नवंबर 2017 को पदयात्रा पर निकले।


वादे पूरे नहीं कर पाए चंद्रबाबू
केन्द्र की भाजपा सरकार के गठबंधन करके आंध्रप्रदेश में सरकार बनाने वाले चंद्रबाबू नायडू ने पीएम नरेन्द्र मोदी के साथ चुनावी जनसभाओं में और अपने अपने घोषणापत्रों में तमाम तरह की घोषणाओं के साथ साथ राज्य को विशेष दर्जा देने की बात कही थी। पर सरकार बनने के बाद दोनों नेताओं ने आंध्र की जनता से किए गए कई वादों को पूरा नहीं किया, वहीं राज्य के विशेष दर्जे से भी मुकर गए। इसके बाद जगन मोहन रेड्डी के आन्दोलन की बढ़ती लोकप्रियता व सरकार के प्रति दिख रहे जनाक्रोश को देखकर चंद्रबाबू केन्द्र सरकार के उपर दोष मढ़ने लगे।

जानलेवा हमला भी हुआ, यात्रा जारी रही
चंद्रबाबू नायडू पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए जनभावना का सम्मान करने का फैसला किया और लोगों के दरवाजे जाकर सीधे लोगों से मुखातिब होने की तैयारी शुरू की। इसके बाद वह अपनी ऐतिहासिक पदयात्रा पर निकल पड़े।

इस दौरान इनके उपर कई राजनैतिक हमले के साथ-साथ 25 अक्टूबर 2018 को जानलेवा हमला भी हुआ और उनकी पदयात्रा में बाधा डालने की तमाम तरह की कोशिशें भी हुईं, इसके बावजूद वह 3648 किमी की यात्रा 341 दिनों तक धूप-बरसात व ठंड की परवाह न करते हुए चलकर 9 जनवरी को इच्छापुरम में पूरा किया। इस पूरी पदयात्रा में वह लगभग डेढ़ करोड़ लोगों से सीधे रू-ब-रू हुए।

लोगों के दुख दर्द बांटने का काम किया
पदयात्रा के ऐतिहासिक स्तूप को लोगों को समर्पित करते हुए जगन मोहन रेड्डी ने कहा.. 'पिछले 14 महीनों में मैं भले ही 3,648 किलो मीटर लंबा पैदला चला हूं, लेकिन उसे चलाने वाले तो राज्य के लोग और उनका प्यार है। मैं पिछले 14 महीनों से राज्यभर के 13 जिलों से गुजरी प्रजा संकल्प यात्रा के दौरान लोगों से मिले जनसमर्थन, प्यार और आदर का सिर झुककार लोगों का आभार व्यक्त करता हूं। यह जरूरी नहीं है कि पदयात्रा कितने किलोमीटर चली, बल्कि जरूरी है इस पदयात्रा में लोगों के दुख दर्द को बांटने का काम किया है।

मांगा जनता का साथ
बुधवार को प्रजा संकल्प यात्रा के समापन के मौके पर भारी जनसैलाब को संबोधित करते हुए वाईएसआर प्रमुख ने कहा कि राज्य में मेरी पार्टी की सरकार बनने पर मेरी कोशिश होगी कि आपको मेरा शासन देखकर आप सभी को मेरे पिता जी की याद आए।  नवरत्नालु को हर घर तक पहुंचाकर उसकी अच्छाई के बारे में बताने की जरूरत है। अगर यह बात लोगों तक आप सभी लोग पहुंचाएंगे, तो कोई भी चंद्रबाबू नायडू से पैसे लेकर कभी वोट नहीं देगा। मैं पिछले 14 महीनों से गरीब के साथ हूं, उनकी परेशानी सुनने के साथ उन्हें ढांढस बांधते हुए आगे बढ़ता रहा। हर गरीब के लिए कुछ अच्छा करने की मंशा है। बिगड़ी राजनीतिक व्यवस्था को सुधारने के लिए आगे बढ़ें, आपके बेटे का साथ देने और आशीर्वाद देने का अनुरोध करता हूं। हमारा संघर्ष आगे भी चलता रहेगा।


जगन ने जनता से किए 9 वादे
प्रजा संकल्प यात्रा के दौरान जगन रेड्‌डी ने लोगों से कहा कि अगर उनकी पार्टी की सरकार बनती है तो वे 9 वादे प्रमुख तौर पर लागू करेंगे, जो सीधे आम जनता से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमारी सरकार बनती है तो वह रैतु भरोसा, फीस पुनर्भुगतान, आरोग्यश्री, जलयज्ञम योजना, मद्य निषेध, अम्माओडी, वाईएसआर आसरा, गरीबों को मकान, पेंशन में बढ़ोत्तरी।


यात्रा एक नजर में

कुल दूरी-  3648
कुल दिन- 241
कुल गांव- 2516
जिले-13
कुल जनसभाएं- 124
विधानसभा क्षेत्र- 134
नगर निगम क्षेत्र- 8
नगर पालिकाएं- 54
मंडल केन्द्र- 203
प्रतिदिन लोगों से संपर्क- करीब 15, 000

  • पदयात्रा के ऐतिहासिक स्तूप को लोगों को समर्पित करते हुए जगन मोहन रेड्डी ने कहा.. 'पिछले 14 महीनों में मैं भले ही 3,648 किलो मीटर लंबा पैदला चला हूं, लेकिन उसे चलाने वाले तो राज्य के लोग और उनका प्यार

Other Latest News of India -

तीन तलाक से जुड़े अध्यादेश को कैबिनेट की मंजूरी

तुरंत तलाक से जुड़े बिल पर संसद में आम सहमति नहीं बनने के बाद गुरुवार को मोदी सरकार ने बड़ा दांव खेलते हुए इससे जुड़े अध्यादेश को मंजूरी दे दी।

11 Jan 11:15 AM

वह कह नहीं सकते हैं कि देश का अगला प्रधानमंत्री कौन बनेगा: बाबा रामदेव

योग गुरु से देश के नामी बिजनेसमैन बन चुके बाबा रामदेव के सुर इन दिनों कुछ बदले-बदले से हैं।

11 Jan 11:05 AM

आलोक वर्मा को सीबीआई प्रमुख पद से हटाया, कांग्रेस ने किया विरोध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यों वाली उच्चस्तरीय कमेटी ने आलोक वर्मा को सीबीआई प्रमुख के पद से हटाने का 2-1 से फैसला किया है।

10 Jan 22:20 PM

वसुंधरा राजे, शिवराज चौहान और रमन सिंह बनाए गए भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

शाह ने राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है।

10 Jan 21:30 PM

सवर्ण आरक्षण बिल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में लगाई याचिका

आर्थिक आधार पर सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण मुद्दे के खिलाफ यूथ फॉर इक्विलिटी ने संविधान संशोधन को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है।

10 Jan 16:15 PM