पत्रकार हत्या मामले में CBI कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम सहित 4 को दिया दोषी करार - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Sunday 17th of February 2019
Home   >  India   >   News
भारत

पत्रकार हत्या मामले में CBI कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम सहित 4 को दिया दोषी करार

Friday, January 11, 2019 15:25 PM

गुरमीत राम रहीम (फाइल फोटो)

पंचकूला। केंद्रीय जांच ब्यूरो की विशेष अदालत ने लगभग 16 साल पुराने सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह और तीन अन्यों को दोषी करार दिया है। विशेष जज जगदीप सिंह ने उक्त मामले में शुक्रवार अपराहन फैसला सुनाते हुए डेरा प्रमुख के अलावा तीन अन्य कृष्णलाल, कुलदीप और निर्मल को भी दोषी ठहराया है। अदालत अब चारों को 17 जनवरी को सजा सुनाएगी।

देरी से ही, लेकिन सुखद निर्णय : अंशुल
रामचंद्र छत्रपति के पुत्र अंशुल छत्रपति ने अदालत के फैसले पर संतोष जाहिर करते हुए कहा हालांकि निर्णय आने में काफी देरी हुई मगर निर्णय सुखद है। गुरमीत सिंह के साध्वी यौन शोषण के बाद पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में दोषी करार दिए से साफ हो गया है कि डेरा प्रमुख धर्मांधता की आड़ में कैसे घिनौने कृत्य करता रहा। उनका परिवार न्यायालय से मांग करेगा कि  डेरा प्रमुख के चाल चरित्र को मद्देनजर रखते हुए फांसी की सजा दी जाए।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश हुआ
गुरमीत राम रहीम सिंह को रोहतक की सुनारिया जेल से ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अदालत में पेश किया गया जहां वह साध्वी यौन शोषण मामले में उम्र कैद की सजा काट रहा है और यह सजा भी विशेष जज जगदीप सिंह ने ही सुनाई थी। इस मामले में तीन अन्य आरोपियों को पुलिस ने यहां व्यक्तिगत तौर पर कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया। दोषी करार दिये जाने के बाद तीनों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया तथा इन्हें अम्बाला जेल ले जाया गया है।

पंचकूला और सिरसा में कड़ी सुरक्षा
अदालल के उक्त मामले में फैसला सुनाने के मद्देनजर पंचकूला और सिरसा में सुरक्षा व्यवस्था के चाक चौबंद इंतजाम किए गए थे। सुरक्षा एजेंसियों ने पिछले कड़वे अनुभवों से सबक लेते हुए समूचे पंचकूला क्षेत्र को छावनी में तब्दील कर दिया था।

जज को भी कड़ी सुरक्षा के बीच लाया गया
चंडीगढ़ में भी जगह जगह नाकों के अलावा पुलिस का कड़ा पहरा था। यहां तक कि विशेष जज को भी कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत लाया गया। अदालत में मामले की सुनवाई के दौरान डेरा प्रमुख के ड्राइवर खट्टा सिंह की गवाही चारों को दोषी साबित करने में अहम रही। इसके अलावा यह भी साबित हुआ कि जिस रिवॉल्वर से छत्रपति की हत्या की गई थी वह किशनलाल की लाईसेंसी रिवॉल्वर थी। छत्रपति को 24 अक्तूबर 2002 को गोली मारी गई थी जिसमें वह गम्भीर रूप से घायल हो गये थे। बाद में उन्होंने 21 नवम्बर 2002 को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था।

‘पूरा’ सच में ‘डेरा का सच’
छत्रपति सिरसा से सिरसा से सांध्यकालीन अखबार ‘पूरा सच्च’ निकालते थे। छत्रपति ने ही साध्वियों द्वारा डेरा में उनके साथ यौन शोषण होने को लेकर तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को लिखा गया पत्र प्रकाशित किया था। इसके बाद ही छत्रपति को जान से मारने की धमकियां मिल रहीं थीं।
 

Other Latest News of India -

अंतरिक्ष पर मानव मिशन भेजने वाला भारत दुनिया का चौथा देश होगा : सिवन

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के अध्यक्ष के सिवन ने बेंगलुरु में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहाक गगनयान मिशन को लेकर तैयारियां चल रही हैं।

11 Jan 16:25 PM

सपा-बसपा महागठबंधन की शनिवार को होगी घोषणा

बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी तथा अन्य छोटे दलों के बीच महागठबंधन की घोषणा शनिवार को यहां की जाएगी।

11 Jan 15:50 PM

राहुल गांधी ने उठाया सकारात्मक कदम, ट्रांसजेंडर को किया कांग्रेस में शामिल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक सकारात्मक कदम उठाया है। राहुल ने

11 Jan 15:50 PM

ममता ने शास्त्री की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि के मौके पर शुक्रवार को उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की

11 Jan 15:35 PM

आलोक वर्मा ने दिया नौकरी से इस्तीफा, नागेश्वर राव ने पलटे उनके फैसले

भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी आलोक वर्मा के केंद्रीय जांच ब्यूरो के निदेशक पद से हटाये जाने के बाद अतिरिक्त निदेशक एम. नागेश्वर राव ने निदेशक पद का प्रभार संभाल लिया है।

11 Jan 15:25 PM