दुर्लभ बीमारी मेगा यूरेटर में जटिल सर्जरी कर बच्ची को दिया नया जीवन - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of January 2019
Home   >  Health   >   News
स्वास्थ्य

दुर्लभ बीमारी मेगा यूरेटर में जटिल सर्जरी कर बच्ची को दिया नया जीवन

Wednesday, December 12, 2018 14:55 PM

जयपुर। 6 साल की शिखा (बदला नाम) को भूख नहीं लगती थी और उसका पेट भी सामान्य आकार से बड़ा था। बच्ची का विकास भी प्रभावित हो गया था और वह सामान्य बच्चों से काफी कमजोर थी, जब डॉक्टर से संपर्क किया गया, तो जांच में सामने आया कि शिखा को मेगा यूरेटर नामक एक दुर्लभ जन्मजात विकृति है, जो उसके किडनी को प्रभावित कर रही थी। नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल के डॉक्टर्स ने एक जटिल रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी कर बच्ची का ना केवल उपचार किया बल्कि उसे नया जीवन भी दिया।

बच्ची को थी गम्भीर जन्मजात विकृति
बच्ची की परेशानी लगातार बढ़ते देख उसके माता-पिता ने नारायणा हॉस्पिटल में परामर्श लिया। यहां उसका सीटी स्कैन सहित अन्य जाँचे कराई गई जिससे रोग की स्पष्ट स्थिति पता लग सकें। जांच में सामने आया कि बच्ची के किडनी से ब्लैडर तक यूरिन पहुँचाने वाली नली, जिसे यूरेटर कहा जाता है उसमें जन्मजात विकृति थी। बच्ची के बाएं ओर की यूरेटर नली, सामान्य से कहीं अधिक बड़ी थी। जो नली 2 एमएम तक चौड़ी होनी चाहिए। वह विकृति के कारण 8 सेंटीमीटर तक हो गई थी। अब्डॉमिनल कैविटी का 60 प्रतिशत हिस्सा सिर्फ बाएं ओर की नली ने ही कवर कर लिया था, जिसके कारण आमाश्य एवं आंत बाएं से दांई ओर खिसक गये थे। यही नही, नली के बढ़े हुए हिस्से के कारण उसके पेट पर भी दबाव बन रहा था, जिससे उसे भूख नही लगने की समस्या हो रही थी।

बेहद जटिल था बच्ची का उपचार
नारायणा हॉस्पिटल के मूत्र रोग एवं किडनी ट्रांसप्लांट विशेषज्ञ डॉ. मधुसूदन पाटोदिया ने बताया कि मरीज के परिजन जब उसे हमारे पास लेकर आएं तो यूरिनरी इंफेक्शन, बुखार और बढ़े हुए पेट के कारण वह काफी कमजोर हो गई थी। जांच से उसे लेफ्ट मेगा यूरेटर की जन्मजात विकृति का पता लगा। यूरेटर के बड़े आकार के कारण यूरिन वहीं इकट्ठा हो जाया करता था, जिससे उसे आए दिन इंफेक्शन और बुखार की समस्या रहती थी। मरीज की स्थिति सुधारने के लिए तुरन्त सर्जरी करना जरूरी था।

जटिल रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी
वरिष्ठ मूत्र रोग एवं किडनी ट्रांसप्लांट विशेषज्ञ डॉ. अमित कोटिया के नेतृत्व में टीम ने जटिल सर्जरी की। यह सर्जरी इसलिए भी काफी चुनौतिपूर्ण थी, क्योंकि मेगा यूरेटर ने अब्डोमिनल कैविटी का 60 प्रतिशत हिस्सा कवर किया हुआ था। बिना दूसरे अंगों को प्रभावित किए इतने बडे यूरेटर को निकालना बेहद जटिल प्रक्रिया है। बाहर से कोई इम्प्लांट न लगाकर, मरीज के ब्लैडर के हिस्से से एक नया यूरेटर रिकंस्ट्रक्ट किया गया। सर्जरी के 72 घंटे बाद ही उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और 2 हफ्ते बाद शिखा स्कूल भी जाने लगी है। उसके पेट का आकार सामान्य हो गया है और उसे भूख भी लगने लगी।

नारायणा हॉस्पिटल की जोनल क्लीनिकल डायरेक्टर डॉ. माला ऐरन ने बताया कि मेगा यूरेटर के कारण मरीज को बार-बार इन्फेक्शन और किडनी के कार्यप्रणाली बिगड़ने की समस्या हो गई थी। इसके अलावा छोटे बच्चे मे एक नए अंग का निर्माण करना भी बहुत जटिल प्रक्रिया है। हमें खुशी है कि हमारी एक्सपर्ट टीम की सफल सर्जरी से ना केवल बच्ची में नया यूरेटर बनाया जा सका, बल्कि बिना किसी समस्या के वह सामान्य जीवन व्यतीत कर रही है।
 

Other Latest News of Health -

बढ़ते स्वाइन फ्लू को लेकर डॉक्टरों ने कहा, जल्द जांच करवाकर बीमारी से बचें

सर्दी बढ़ने के साथ ही शहर व आसपास के गांवों में स्वाइन फ्लू का कहर तेजी से बढ़ रहा है। अब तक इस सीजन में एक दर्जन से अधिक स्वाईन फ्लू रोगियों की मौत बताई जा रही है। वहीं असल आंकड़ों की बात करे तो 29 स्वाइन फ्लू पॉजीटिव मरीजों की मौत हो चुकी है। जबकि 245 स्वाइन फ्लू पॉजीटिव अबतक इस सीजन में सामने आ चुके है।

29 Dec 01:30 AM

मरीज हनुमान चालीसा पढ़ता रहा, डॉक्टर ब्रेन सर्जरी करता रहा

शहर के नारायणा हॉस्पिटल में एक 30 वर्षीय मरीज की पूरे होश में सर्जरी की गई। इस दौरान मरीज हनुमान चालीस पढ़ता रहा और डॉक्टर अपनी सर्जरी करता रहा।

27 Dec 14:40 PM

SMS अस्पताल में कैंसर पीडि़त मरीज को मिलेगी राहत

सवाई मानसिंह अस्पताल में मंगलवार को एक दानदाता ने रेडियोथैरेपी फ्रिक्वेंसी एब्लेशन मशीन दान की है। इस मशीन की कीमत करीब 15 लाख रुपए है।

19 Dec 11:20 AM

अब बिना सर्जरी के ऐसे होगा ब्रेन ट्यूमर का इलाज

अब बच्चों के ब्रेन मे ट्यूमर होने पर सर्जरी कराने की जरूरत नहीं होगी। रेडियो किरणों से ट्यूमर वाले भाग पर सीधे हिट करके

16 Dec 11:35 AM

पांच दिन के बच्चे की एंडोस्कोपिक सर्जरी कर नाक के दुर्लभ ब्लॉकेज को किया ठीक

शहर के एक निजी अस्पताल के चिकित्सकों ने समय पूर्व जन्मे पांच दिन के बच्चे की सफल एंडोस्कोपिक सर्जरी कर नाक से सम्बंधित

15 Dec 12:20 PM