धड़कते दिल पर बिना हार्ट लंग मशीन की मदद से सर्जरी - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Friday 16th of November 2018
Home   >  Health   >   News
स्वास्थ्य

धड़कते दिल पर बिना हार्ट लंग मशीन की मदद से सर्जरी

Thursday, September 20, 2018 12:55 PM

जयपुर। सिर्फ 29 हफ्ते का प्रीमेच्योर बच्चा, जिसका वजन मात्र एक किलो 25 ग्राम था। उसके धड़कते दिल पर बिना हार्ट लंग मशीन की मदद के डॉक्टरों ने जटिल सर्जरी की है। इस सर्जरी में इंटरप्टेड अरोटिक आर्च को रिपेयर किया गया और पीडीए का डिवीजन कर दिल के छेदों के लिए एमपीए बैंड किया गया।

शिशु की अपरिपक्वता, एक किलो का वजन एवं इस तरह के कॉम्प्लेक्स हार्ट डिफेक्ट के हालात में यह दुनिया की प्रथम हार्ट सर्जरी दर्ज हुई है। फोर्टिस हॉस्पिटल के पीडियाट्रिक कार्डिक सर्जरी के डायरेक्टर डॉ. सुनील कुमार कौशल ने अपनी टीम के साथ यह सफल इलाज किया है।

यूं की सर्जरी
उन्होंने बताया कि जब इस प्रीमेच्योर बेबी को हॉस्पिटल के आईसीयू में लाया गया तब इसे सांस लेने में परेशानी हो रही थी और शरीर ठंडा पड़ रहा था। अपरिपक्व शरीर व कम वजन इसके इलाज में सबसे बड़ी बाधा थी। ऐसे में कुछ जांचें करने पर उसके कॉम्प्लेक्स हार्ट डिफेक्ट के बारे में भी पता चला। इससे शरीर के निचले हिस्से में रक्त का उपयुक्त संचार नहीं हो पा रहा था। ऐसी गंभीर स्थिति में ओपन हार्ट सर्जरी करना संभव नहीं था।

ऐसे में शिशु को फैट प्रोटीन इंजेक्शन देकर उसका वजन लगभग तीन किलोग्राम तक ले जाने का फैसला लिया ताकि शिशु को एक से दो दो माह का समय और मिल जाए, लेकिन यह कोशिश सफल नहीं हुई और हालात और गंभीर होते गए। शिशु को वेंटिलेटर पर रखना पड़ा। शिशु की जान बचाने के लिए शीघ्र आॅपरेशन करना ही एकमात्र रास्ता था। परिजनों की सहमति से शिशु के धड़कते दिल में ही बिना हार्ट लंग मशीन के यह जटिल सर्जरी की जो पूरी तरह सफल रही।

Other Latest News of Health -

अफगानिस्तान से आए तीन बच्चों की जटिल हार्ट सर्जरी कर बचाई जान

शहर के एक निजी अस्पताल ने अफगानिस्तान से आए तीन बच्चों की जटिल हार्ट सर्जरी कर उन्हें नया जीवन दिया है। ये सभी बच्चे 10 से 12 किलोग्राम वजन के थे और सभी जटिल साइनोटिक जन्मजात ह्दय रोग (सीसीएचडी) से पीड़ित थे

09 Oct 13:05 PM

हर साल एक मिलियन से ज्यादा बच्चे सेरेब्रल पॉल्सी से ग्रसित

सेरेब्रल पाल्सी एक तंत्रिका संबंधी विकार है जो एक बच्चे के चलने फिरने, हाथ पांव हिलाने की कला और मांसपेशीयों की टोन को प्रभावित करता है।

07 Oct 10:00 AM

ब्रेस्ट कैंसर भारत की महिलाओं को होने वाला दूसरा सबसे आम कैंसर, 90 प्रतिशत महिलाओं को खतरा

जागरुकता की कमी के चलते शहर की 90 प्रतिशत से भी अधिक महिलाओं को भारत में होने वाले सबसे आम कैंसर होने का खतरा बढ़ गया है।

07 Oct 10:00 AM

परेशानी न बन जाएं हवाई यात्रा में बैरोट्रॉमा

अभी हाल ही में जेट एयरवेज के विमान में हवा का दबाव कम होने के कारण यात्रियों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा।

29 Sep 10:45 AM

कुछ आदतें बदलें, फिर देखें कैसे आपका दिल रहता है हैल्दी

बदलती जीवनशैली तनाव, भागदौड़ भरी जिंदगी और युवाओं में धूम्रपान, तंबाकू इत्यादि सेवन के कारण दिल से जुड़ी बीमारियों में बढ़ोतरी होती जा रही है, जिसकी वजह से उम्र बढ़ने के साथ ही हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज आदि दिल की बीमारी की प्रमुख वजह बन रही है।

29 Sep 10:45 AM