मायावती का ऐलान, राजस्थान और मध्यप्रदेश में अकेले चुनाव लड़ेगी बसपा - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 18th of December 2018
Home   >  Election 2018   >   News
चुनाव-2018

मायावती का ऐलान, राजस्थान और मध्यप्रदेश में अकेले चुनाव लड़ेगी बसपा

Wednesday, October 03, 2018 16:00 PM

बसपा प्रमुख मायावती (फाइल फोटो)

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की सुप्रिमो मायावती ने लोकसभा चुनावों से पूर्व विपक्षी गठबंधन को करारा झटका देते हुए इस साल के अन्त में राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में सभी सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं  मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार से क्षुब्ध होकर बुधवार को जारी बयान में कहा कि कांग्रेस के साथ राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में गठबंधन नहीं हो सकता और उनकी पार्टी दोनों राज्यों में सभी विधानसभा सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ने का फैसला किया है। किसी भी कीमत पर हमारा कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस भाजपा से ज्यादा गैर-भाजपा दलों को कमजोर करने की कोशिश में लगी रहती है।

बंधने से पहले ही टूटी गठबंधन की डोर   
मायावती ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं सोनिया गांधी बसपा के साथ गठबंधन करना चाहते हैं, लेकिन दिग्विजय सिंह भारतीय जनता पार्टी के एजेन्ट है और वह कांग्रेस एवं बसपा गठबंधन को रोकने के लिए सभी प्रयास करेंगे।

भाजपा को हराना ही नहीं चाहती कांग्रेस 
उन्होंने कहा, राजस्थान और मध्य प्रदेश में मुझे लगता है कि कांग्रेस का इरादा भाजपा को हराने का नहीं है, बल्कि वह उनके साथ दोस्ती रखने वाली पार्टियों को ही हानि पहुंचाना चाहती है। राजस्थान और मध्य प्रदेश में या तो हम क्षेत्रीय पार्टियों के साथ गठबंधन करेंगे या फिर अकेले चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेंगे।

हम संघर्ष कर अस्तित्व में आए हैं 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस को यह पता होना चाहिए कि बसपा संघर्ष कर अस्तित्व में आई है और यह दलितों एवं गरीबों के साथ सर्व समाज का प्रतिनिधित्व करती है।

बसपा को कमजोर करना चाहती है कांग्रेस
उन्होंने दावा किया कि बसपा देश की राजनीति में बदलाव लाने की शक्ति रखती है, लेकिन कांग्रेस उसको गठबंधन में कम सीटें देकर कमजोर करना चाहती है। कांग्रेस बसपा को समाप्त करने का प्रयास कर रही है।

राहुल पर मायावती को विश्वास, बातचीत के जरिए सलवटों को दूर किया जाएगा
मायावती के गठबंधन नहीं करने के ऐलान पर कांगे्रस के संचार विभाग के प्रमुख रणदीपसिंह सुरजेवाला ने  कहा कि अपने बयान में मायावती ने कांग्रेस नेतृत्व पर जिस तरह से विश्वास व्यक्त किया है उससे साफ है कि दोनों दलों के बीच बातचीत के जरिए सलवटों को दूर कर दिया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी और मायावती के बीच यदि सहमति बनती है तो कोई तीसरी ताकत विघ्न पैदा कर ही नहीं सकती।
 

Other Latest News of Election-2018 -

अंजू की गणित फिर जनरल जातियां

बस्सी में दो बार से अंजू धानका, भाजपा-कांग्रेस सहित अन्य उम्मीदवारों को परास्त कर रही हैं। जनरल जातियों के धु्रवीकरण

22 Nov 11:30 AM

भाजपा ने प्रेमचंद बैरवा पर जताया भरोसा, बाबूलाल नागर को दलित वोटों पर भरोसा

भाजपा ने अपने विधायक प्रेमचंद बैरवा पर फिर भरोसा जताया है। वे जातिगत वोटों, पार्टी के परम्परागत वोट बैंक, कांग्रेस में

22 Nov 11:15 AM

मध्यप्रदेश में बीजेपी प्रत्याशी को पहनाई जूतों की माला

मध्य प्रदेश में बीजेपी के नेताओं को जगह-जगह विरोध सामना करना पड़ रहा है। बीजेपी प्रत्याशी दिलीप सिंह शेखावत को चुनाव प्रचार के दौरान गांव खेड़ावदा में एक व्यक्ति ने जूते की माला पहना दी।

20 Nov 16:35 PM

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव : कोटा के किले में कांग्रेस का तिलिस्म बरकरार

छत्तीसगढ़ की हाईप्रोफाइल सीटों में शुमार बिलासपुर जिले की कोटा सीट पर देश की आजादी के बाद से अब तक कांग्रेस की बादशाहत रही है।

18 Nov 11:55 AM

कांग्रेस को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की कमलनाथ और सचिन पायलट की याचिकाएं

उच्चतम न्यायालय ने मध्य प्रदेश और राजस्थान में मतदाता सूची में कथित गड़बड़ी के खिलाफ कांग्रेस नेता कमलनाथ एवं सचिन पायलट की याचिकाएं शुक्रवार को निरस्त कर दी।

12 Oct 11:10 AM