पाक की हरकत - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Sunday 17th of February 2019
Home   >  Editorial   >   News
संपादकीय

पाक की हरकत

Thursday, February 07, 2019 09:55 AM

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में दखलअंदाजी करने से बाज नहीं आ रहा है।

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में दखलअंदाजी करने से बाज नहीं आ रहा है। भारत की कड़ी चेतावनी के बावजूद एक बार फिर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कश्मीर के अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी से फोन पर बात की। इससे पहले जब कुरैशी ने अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक से फोन पर वार्ता की थी तब भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस हरकत को भारत के आंतरिक मामलों में दखल मानते हुए पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी थी। भारत के विरोध जताने के बाद पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने कहा कि वार्ता के जरिए कश्मीर के हालात का जायजा लिया गया था क्योंकि पाक के विदेश मंत्री कुरैशी कश्मीर के मामले को लेकर लंदन में आयोजित एक कांफ्रेंस में हिस्सा लेंगे। इसके अलावा ब्रिटिश सरकार से आधिकारिक मीटिंग भी करेंगे।

भारत के कड़े विरोध के बाद खबर मिली है कि ब्रिटेन की सरकार ने आधिकारिक मीटिंग को रद्द कर दिया है। कुरैशी की ब्रिटेन यात्रा गैर सरकारी है। ब्रिटेन के इस फैसले को भारत की कूटनीतिक जीत कहा जा सकता है। लेकिन जहां तक पाकिस्तान का सवाल है तो उसका दोहरा रवैया देखने को मिल रहा है। पाकिस्तान में इमरान खान के नेतृत्व में नई सरकार के गठन के शुरूआती दिनों में इमरान खान के जैसे बयान सामने आए, उससे यह उम्मीद पैदा हुई थी कि संभवत: वे भारत के साथ संबंधों को सामान्य बनाने के इच्छुक हैं। लेकिन व्यवहार में पाकिस्तान की तरफ से जिस तरह की आवांछित हरकतें हो रही हैं, उससे लगता है कि वह दोस्ताना रिश्तों को लेकर गंभीर नहीं है। कश्मीर में भारत के खिलाफ अभियान चलाने वाले अलगाववादियों से वहां के मंत्री बात कर रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी जो कुछ भी कर रहे हैं, उससे पाकिस्तान अनजान नहीं है। लेकिन फिर भी पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी अलगाववादी नेताओं से फोन पर वार्ता करते हैं तो इससे जाहिर होता है कि पाकिस्तान की सरकार ही कश्मीर में अस्थिरता को पैदा करने में शामिल है। इस तरह की हरकत को भारत अपने आंतरिक मामले में दखल मानता है तो पाकिस्तान को ऐसी हरकत से बाज आना चाहिए। भारत एक संप्रभु देश है तो ऐसे दखल को स्वीकार कैसे किया जा सकता है। दुनिया का कोई भी संप्रभु और स्वतंत्र देश उसकी एकता पर चोट को सहन नहीं करना चाहेगा।

इसलिए भारत ने अगर अपनी संप्रभुता में दखल और क्षेत्रीय अखण्डता का उल्लंघन करने के पाकिस्तान के नापाक प्रयासों के प्रति कड़ा विरोध जताया है तो वह जायज और उचित है। पाकिस्तान को भारत के विरोध पर गौर करना चाहिए। पाकिस्तान की हरकत अंतरराष्ट्रीय नियमों के भी खिलाफ है। पाकिस्तान को यह नहीं भूलना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर भारत को अभिन्न हिस्सा है और उसे दस राज्य से संबंधित किसी भी मामले में हस्तक्षेप का अधिकार नहीं है। अपनी शर्मनाक हरकत के बावजूद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भारत की आपत्तियों को खारिज करते हुए कहा है कि उसकी कश्मीरी नेताओं से इस तरह की बातचीत होती रहती है।

लेकिन यहां सवाल है कि क्या पाकिस्तान अपने सीमा क्षेत्र में किसी अन्य देश के शीर्ष नेताओं के स्तर से ठीक इसी तरह के प्रयासों को सहन कर ऐसी ही प्रतिक्रिया को स्वीकार कर सकता है? विचित्र बात है कि एक तरफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री भारत से बातचीत की पेशकश करते नजर आते हैं तो वहां के वरिष्ठ मंत्री भारत में अलगाववादियों से बातचीत करते हैं। ऐसी हरकतों के चलते यह कैसे उम्मीद की जा सकती है दोनों देशों के बीच कोई बातचीत हो।

Other Latest News of Editorial -

फिर आग ने बरपाया कहर

अनदेखी और लापरवाही की वजह से एक बार फिर भीषण आग ने कहर बरपाया है। राजधानी दिल्ली के करोलबाग इलाके में स्थित होटल अर्पित पैलेस में मंगलवार की तड़के तीसरी मंजिल

14 Feb 08:00 AM

लखनऊ में प्रियंका का पहला प्रदर्शन

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ अपनी राजनीतिक यात्रा शुरू करने उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंची कांग्र्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी अपने पहले ही रोड शो में लोगों के दिलों पर छा गई।

13 Feb 09:35 AM

गुर्जर आंदोलन

पांच फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर राजस्थान में गुर्जरों का आंदोलन तीसरे दिन रविवार को हिंसक हो गया। धौलपुर में महापंचायत के बाद गुर्जर

12 Feb 09:30 AM

जहरीली शराब

उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड की सीमा पर अनेक गांवों में जहरीली शराब ने ऐसा कहर ढाया है कि उसके सेवन से अब तक 104 लोगों की मौत हो गई है

11 Feb 10:05 AM

घटी ब्याज दर

अंतरिम बजट में कर के मामले में आम लोगों को मिली राहत के बाद अब भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने भी आम लोगों के लिए सस्ते कर्ज का रास्ता खोल दिया है।

09 Feb 09:45 AM