केन्द्र सरकार को लाभांश के 28 हजार करोड़ देगा आरबीआई - Dainik Navajyoti
Dainik Navajyoti Logo
Sunday 17th of February 2019
Home   >  Business   >   News
बिज़नेस

केन्द्र सरकार को लाभांश के 28 हजार करोड़ देगा आरबीआई

Tuesday, February 12, 2019 10:50 AM

मुंबई। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) अपने पास पड़ी अतिरिक्त रकम में सरकार को तुरंत हिस्सेदारी नहीं देगा। हालांकि, सेंट्रल बैंक की ऑडिट कमिटी ने चालू वित्त वर्ष के सीमित आकलन के आधार पर सरकार को 28 हजार करोड़ रुपए का अंतरिम लाभांश देना तय कर दिया है। इसकी घोषणा 18 फरवरी को होने वाली बोर्ड मीटिंग में कर दी जाएगी। केंद्र सरकार आरबीआई के पास वर्षों से जमा हो रहे अतिरिक्त धन के एक हिस्से की मांग कर रही है। केंद्र इस हिस्से को श्एक्सेस रिजर्व्स यानी जरूरत से ज्यादा भंडार कहता है।

रिजर्व बैंक के पास कितना रिजर्व हो यानी उसका कैपिटल फ्रेमवर्क क्या हो, इस पर विचार के लिए पूर्व आरबीआई गवर्नर विमल जालान की अध्यक्षता में एक कमिटी बनाई गई है। 31 मार्च तक इस कमिटी की रिपोर्ट आने की उम्मीद है। सरकार की दलील है कि आरबीआई के पास अन्य देशों के सेंट्रल बैंकों के मुकाबले ज्यादा रिजर्व है। अंतरिम बजट के बाद आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा था कि सरकार आरबीआई से 28 हजार करोड़ के लाभांश की उम्मीद करती है। यह रकम पिछले वर्ष आरबीआई द्वारा दिए गए 40 हजोर करोड़ के अलावा है।

आरबीआई को लगता है कि बिमल जालान कमिटी की सिफारिश के बिना ही सरकार को 40 हजार करोड़ देना उचित नहीं था। पांच फरवरी को कांग्रेस सांसद शैलजा कुमारी के सवाल के जवाब में वित्त राज्य मंत्री पी. राधाकृष्णन ने बताया था कि सरकार ने आरबीआई से चालू वित्त वर्ष का अतिरिक्त भंडार सौंपने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा था कि सरकार ने आरबीआई ऐक्ट के सेक्शन 7 के तहत आग्रह नहीं किया था। यह सेक्शन सरकार को आरबीआई को निर्देश देने का अधिकार देता है। वित्त राज्य मंत्री ने कहा था

कि आरबीआई के पास 206-17 और 2017-18 के क्रमश: 13,190 करोड़  और 14,190 करोड़ यानी कुल 27,380 करोड़ पड़े हैं। हालिया मौद्रिक नीति समीक्षा के ऐलान के बाद आरबीआई गवर्नर शशिकांत दास ने कहा था, सरकार और आरबीआई के बीच कई मुद्दों पर बातचीत चल रही है और बहस मुबाहिसों के बाद एक फैसला लिया गया है। आरबीआई का कोई भी फैसला सिद्धातों और अकाउंटिंग के नियमों पर आधारित होगा। दरअसल, उनसे पूछा गया था कि क्या सरकार आरबीआई से फंड ट्रांसफर करने को कह रही है।
 

Other Latest News of Business -

हिन्दुस्तान कॉपर के शुद्ध लाभ में 83 % बढ़ोतरी

हिंदुस्तान कॉपर ने सोमवार को अपने शुद्ध लाभ में 83 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की, जो 31 दिसंबर 2018 को समाप्त तिमाही में 34.56 करोड़ रुपए थी, जबकि एक साल पहले की अवधि में यह 18.92 करोड़ रुपए थी।

13 Feb 11:35 AM

मारुति सुजुकी की न्यू बलीनो कार बाड़मेर में लाँच

मारुति सुजुकी नेक्सा की अधिकृत डीलरशिप ऑडी मोटर्स द्वारा बाड़मेर में न्यू बलीनो कार लाँच की गई। एसबीआई के ब्रांच मैनेजर रामवरन सिंह सेंगर

13 Feb 11:30 AM

सिंघानिया को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड

जेके टायर एंड इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक डॉ. रघुपति सिंघानिया को उदयपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (यूसीसीआई) द्वारा

13 Feb 11:20 AM

95 प्रतिशत रीयल एस्टेट कंपनियों के पंजीयक को PAN नंबर की जानकारी नहीं

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक ने संसद में एक रिपोर्ट पेश की, जिसमें सामने आया कि 95 प्रतिशत रीयल एस्टेट कंपनियों के पंजीयक के पास स्थायी खाता नंबर (पैन) के बारे में जानकारी नहीं है।

13 Feb 11:10 AM

आईआईपी 2.4 % बढ़ा

दिसंबर 2018 में देश का औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) 2.4 प्रतिशत की बढ़त में दर्ज किया गया है जबकि इससे पिछले वर्ष के इसी माह में यह आंकडा 7.3 प्रतिशत रहा था।

13 Feb 11:10 AM